माकपा नेता और एसडीएम में तकरार, नौबत हाथापाई तक जा पहुंची

– पुलिस ने मौके पर पहुंच कर किया बचाव
रायसिंहनगर। उपखण्ड अधिकारी कार्यालय में आज दोपहर उपखण्ड अधिकारी व माकपा नेताओं में तीखी तकरार हो गई। नौबत हाथापाई तक जा पहुंची। पुलिस उप अधीक्षक आनन्द स्वामी ने मयजाब्ता तुरंत मौके पर पहुंच बीच बचाव किया, इसके बावजूद कुछ लोग सीओ से ही उलझ गये। जानकारी के अनुसार माकपा नेता राकेश ठोलिया, श्योपतराम मेघवाल सहित कई लोग आज दोपहर मूंग की सरकारी खरीद शुरू करवाने की मांग को लेकर ज्ञापन देने उपखण्ड अधिकारी सत्यवीर यादव के पास पहुंचे। उस वक्त एसडीएम जिला कलेक्टर से फोन पर बातचीत कर रहे थे। उपखण्ड अधिकारी ने शिष्टमण्डल से आग्रह किया कि वह इजलास में आ जाते हैं, वहां चलो, मैं आता हूं।
इस बात को लेकर शिष्टमण्डल में आये नेता नाराज हो गये। माकपा नेताओं का कहना है कि उपखण्ड अधिकारी ने उन्हें अपमानित किया है। एसडीएम भी नेताओं के व्यवहार से नाराज हो गये। वह इजलास में पहुंच गये। यहां दोनों पक्षों में तीखी नोक झोंक हो गई। एक दूसरे पर गाली गलौच करने का आरोप लगाने लगे। इसी दौरान माकपा नेताओं के साथ आये लोगों ने उपखण्ड अधिकारी के साथ धक्का मुक्की शुरू कर दी। सूचना मिलने पर पुलिस उप अधीक्षक आनन्द स्वामी पुलिस दल के साथ मौके पर पहुंचे। पुलिस ने समझाइश करके दोनों पक्षों को शांत करवाया। दुव्र्यवहार होने पर उपखण्ड अधिकारी ने भी ज्ञापन लेने से इंकार कर दिया। ऐसे में किसान नेताओं ने उपखण्ड अधिकारी कार्यालय के चेम्बर में धरना लगा दिया और नारेबाजी शुरू कर दी। पुलिस ने उपखण्ड अधिकारी को सुरक्षित चेम्बर से निकाल कर दूसरे कमरे मेें पहुंचाया। इस हंगामे की सूचना पर मिलने कई अन्य लोग भी वहां पहुंच गये। इन लोगों ने पुलिस पर ही इल्जाम लगाना शुरू कर दिया। शोर शराबे के बीच किसानों ने उपखण्ड अधिकारी कार्यालय पर अपना ज्ञापन चस्पा कर दिया। पुलिस उप अधीक्षक आनन्द स्वामी किसान नेताओं के साथ वार्ता करके माहौल शांत करने का प्रयास कर रहे हैं। समाचार लिखे जाने तक उपखण्ड अधिकारी कार्यालय में स्थिति तनावपूर्ण, लेकिन नियन्त्रण में थी।