मुझे विवाह समारोह में आमंत्रित करने वाले स्वयं कहें कोई दहेज नहीं लिया: नीतीश

पटना। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि उन्हें विवाह समारोह में शामिल होने के लिए निमंत्रित करने वालों को यह कहना होगा कि कोई दहेज नहीं लिया गया है। पटना के एक अणे मार्ग स्थित अपने आवास पर ‘लोक संवादÓ कार्यक्रम के बाद पत्रकारों द्वारा दहेज प्रथा एवं बाल विवाह को लेकर प्रदेश में छेड़े गए अभियान के बारे में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा कि उन्हें विवाह समारोह में आमंत्रित करने पर कोई शपथपत्र नहीं मांगा जाएगा लेकिन लोग यदि स्वयं यह कहेंगे कि ”मैंने बिना दहेज के शादी की है तो इसका समाज पर बहुत अच्छा प्रभाव पड़ेगा।,, उन्होंने समाज सुधार की दिशा में इसे बड़ा अभियान बताते हुए कहा कि इसमें आप मीडिया वाले भी इस अभियान को आगे बढ़ाने में हमारी मदद करें। नीतीश ने कहा कि बिहार में बाल विवाह 39 प्रतिशत है। महिला अपराध में बिहार का 26वां स्थान है। यदि दहेज प्रथा एवं बाल विवाह बंद हो जायं तो कितना बड़ा बदलाव आयेगा। इसके लिए जागरूकता बहुत बड़ा माध्यम बनेगा। अगले साल 21 जनवरी को मानव श्रृंखला बनेगी, जो जन समर्थन का प्रतीक होगी।