मुलायम के बाद अखिलेश से मिलकर क्या गुल खिला रहे हैं कांग्रेस के पीके

indexलखनऊ। प्रदेश में भाजपा विरोधी महागठबंधन बनाने की कोशिशें परवान चढ़ती दिख रही हैं। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के साथ कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशांत किशोर की सोमवार को पौने दो घंटे की बैठक के बाद ऐसे दावे किए जा रहे हैं। पीके ने अपना राजनीतिक आंकलन सीएम के समक्ष रखा। माना जाता है कि अखिलेश ने भी उनकी बातों में दिलचस्पी दिखाई । पीके से मिलने से पहले अखिलेश ने मुलायम सिंह से लंबी गुफ्तगू की थी। तर्क यह है कि मुलायम सिंह 2017 के चुनाव में भाजपा विरोधी वोटों का बिखराव रोकना चाहते हैं। कौमी एकता दल के विलय और रालोद के सकारात्मक संकेतों के बाद कांग्रेस के रणनीतिकार से उनकी मुलाकातें इस दिशा में अहम मानी जा रही हैं। इनसे गठबंधन को लेकर अटकलें तेज हो गई हैं।