मुलायम ने शिवपाल पर अखिलेश की राय को दी तवज्जो

sbt-news-रद्द हुआ महागठबंधन
लखनऊ। महागठबंधन से इन्कार करके सपा मुखिया मुलायम सिंह ने सीएम अखिलेश यादव की राय को तवज्जो दी है। पिछले छह माह में यह उनका पहला फैसला है जिसमें सीएम की पसंद का ख्याल रखा गया है। माना जा रहा है कि अखिलेश की छवि और लोकप्रियता को देखते हुए मुलायम अब टिकट वितरण में भी संतुलन बनाएंगे। अखिलेश यादव शुरू से ही अपनी सरकार के काम के आधार पर चुनाव मैदान में जाने की बात कहते रहे हैं। वे विकास को चुनाव एजेंडा बनाना चाहते हैं। उनके एजेंडे में भटकाव न आए इसीलिए उन्होंने कौमी एकता दल के सपा में विलय का विरोध किया था। वे नहीं चाहते थे कि मुख्तार अंसारी जैसे बाहुबली का नाम सपा के साथ जोड़ा जाए। इससे अखिलेश की क्लीन छवि बनी, पार्टी के बाहर भी उनके रुख को सराहा गया। हालांकि सपा मुखिया इससे सहमत नहीं थे। इसी वजह से विवाद की स्थिति पैदा हुई। केंद्रीय संसदीय बोर्ड ने विलय को खारिज किया, लेकिन सपा मुखिया ने वीटो पॉवर का इस्तेमाल करते हुए इसे फिर मंजूरी दे दी।