BREAKING NEWS
Search

मूंग दाल की करारी खस्ता कचोड़ी

आसानी ने बनने वाली कुरकुरी उड़द दाल खस्ता कचौरी को आप जब चाहें खाने के लिए बना कर तैयार कर सकते हैं। यह कचौरी आप सभी को बहुत पसंद आयेंगी।
सामग्री:
मैदा – 2 कप (250 ग्राम)
मूंगदाल – 1/2 कप (100 ग्राम)
घी – 5 टेबल स्पून (70 ग्राम)
मैदा – 3 टेबल स्पून
हींग – 1/2 पिंच
जीरा पाउडर – 1/2 छोटी चम्मच
गरम मसाला – 1/4 छोटी चम्मच
धनिया पाउडर – 1.5 छोटी चम्मच
सौंफ पाउडर – 1.5 छोटी चम्मच
अमचूर – 1/2 छोटी चम्मच
लाल मिर्च पाउडर – 1/2 छोटी चम्मच
हरी मिर्च – 2 (बारीक कटी हुई)
अदरक – 1 छोटी चम्मच
नमक – 1.25 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
तेल – स्टफिंग बनाने के लिए और कचौरी तलने के लिए
विधि: किसी बड़े प्याले में मैदा निकाल लीजिए, मैदा में 2 टेबल स्पून घी और 1/2 छोटी चम्मच नमक डाल कर अच्छे से मिला दीजिए और थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए नरम आटा गूंथ कर तैयार लीजिए। इतना आटा गूथने में 1/2 कप से थोडा़ सा ज्यादा पानी लगा है। आटे को 20-25 मिनिट के लिए ढक कर सैट होने के लिए रख दीजिए।
मूंग की दाल को धोकर 1 घंटे के लिए भिगो कर रख दीजिए। इसके बाद दाल से अतिरिक्त पानी हटा के भीगी हुई दाल को मिक्सर में दरदरा पीस लीजिए (दाल को पीसने के लिए पानी का उपयोग न करें)। पीसी हुई दाल को प्याले में निकाल लीजिए।
स्टफिंग बनाएं
स्टफिंग तैयार करने के लिए पैन में 2 टेबल स्पून तेल डालकर गरम कर लीजिए। तेल गरम होने पर धीमी आंच में 1/2 पिंच हींग, 1/2 छोटी चम्मच जीरा पाउडर, 1.5 छोटी चम्मच सौंफ पाउडर , 1.5 छोटी चम्मच धनिया पाउडर, 2 बारीक कटी हरी मिर्च, 1 छोटी चम्मच अदरक का पेस्ट डालकर हल्का सा भून लीजिए। (मसालों को धीमी आंच पर भूनिये, ताकि मसाले जले नहीं)।
भूने हुए मसाले में पीसी हुई दाल, 1/2 छोटी चम्मच से थोडा़ सा ज्यादा नमक, 1/4 छोटी चम्मच गरम मसाला, 1/2 छोटी चम्मच लाल मिर्च पाउडर और 1/2 छोटी चम्मच अमचूर पाउडर डाल दीजिए। दाल को लगातार चलाते हुए, अच्छी महक और पूरी तरह सूखने तक भून लीजिए। कलछी को पैन के तले पर चलाते हुए भून लीजिए ताकि दाल पैन के तले पर न लगे।
स्टफिंग भुन कर गोल्डन ब्राउन होकर तैयार है और दाल भूनने में लगभग 10 मिनिट का समय लगा है। स्टफिंग बनकर तैयार है। इसे प्याले में निकाल कर ठंडा होने के लिए रख दीजिए।
कचौरी बनाएं
20 मिनिट बाद आटा सैट होकर तैयार है। आटे को थोड़ा सा मसल लीजिए। आटे से छोटी-छोटी लोईयां तोड़कर तैयार कर लीजिए। कचौरी का आकार आप थोड़ा बड़ा, छोटा या अपनी पसंद के अनुसार बना सकते हैं।
एक प्याली में 3 टेबल स्पून घी ले लीजिए और इसमें 2 टेबल स्पून मैदा डाल कर अच्छे से मिक्स कर लीजिए। घी आटे का मिश्रण तैयार है।
कचौरियों के लिए लोइयों को बेल लीजिए। कचौरियों के लिए पहले शीट बनाकर तैयार कीजिए। एक लोई उठाइए और गोल पतली बेल लीजिए। इसे रोटी की तरह ही पतला बेलकर तैयार कर लीजिए।
पूरी बेलने के बाद, इस पर घी- मैदे का मिश्रण लगाइए और एक समान फैला दीजिए। पूरी पर घी आटे के मिश्रण की पतली सी परत बिछाने के बाद, इसे 3 परतों में मोड़ लीजिए। इसके ऊपर फिर से घी-मैदे का मिश्रण लगाइए और बिल्कुल एक जैसा फैला दीजिए। फिर से, इसे तीन परतों में मोड़ दीजिए। इस तरह चौकोर लोई बनकर तैयार हो जाएगी। इसी प्रकार सारी लोइयों से चौकोर शीट बनाकर तैयार कर लीजिए।
कचौरी तलने के लिए तेल गरम होने रख दीजिए। अब एक लोई उठाइए और चकले पर रखकर चौकोर थोड़ा सा मोटा बेल लीजिए। इसके ऊपर 2 चम्मच स्टफिंग डाल दीजिए और इसके दोनों कोने उठाकर जोडि़ए। फिर, तीसरे कोने को जोड़े हुए कोनों के साथ मिलाइए और किनारों को चिपका दीजिए। चौथे कोने और किनारों को भी इसी प्रकार चिपका दीजिए। इस तरह चारों किनारे चिपककर तैयार हो जाएंगे। अब, दो किनारे उठाइए और दोनों को जोड़कर चिपका दीजिए और बाकी के किनारों को भी से ही चिपका दीजिए। बीच में इक_े किए गए जोड़ों को अच्छे से जोड़कर चपटा कर दीजिए। कचौरी स्टफ्ड होकर तैयार है। सारी कचौरियों को इसी तरह भरकर तैयार कर लीजिए।
कचौरियां तलिए
तेल चैक कीजिए। तेल चैक करने के लिए जरा सा आटा तोड़कर तेल में डाल दीजिए। आटा हल्का हल्का सिक रहा है और धीरे से ऊपर आ रहा है। कचौरियां तलने के लिए बिल्कुल हल्का गरम तेल चाहिए। तेल ठीक गरम है, आग धीमी रखिए और कचौरियों को तलने के लिए डाल दीजिए। कचौरियों को धीमी आग पर अच्छी गोल्डन ब्राउन होने तक तल लीजिए। जैसे ही कचौरियां तैरकर ऊपर आ जाएं, वैसे ही इन्हें पलट दीजिए।
कचौरियों के अच्छे से सिक जाने के बाद, इनको एक प्लेट में निकाल लीजिए। कचौरियां निकालते समय कलछी पर कचौरियों को कढ़ाई के किनारे पर रोककर रखिए ताकि अतिरिक्त तेल कढ़ाई में ही चला जाए। सभी कचौरियों को बिल्कुल इसी भांति तलकर तैयार कर लीजिए। एक बार की कचौरियां सिकने में लगभग 11 से 12 मिनिट का समय लग जाता है। सभी कचौरियों को सेकने के बाद गैस बंद कर दीजिए। इतनी मैदा में 16 कचौरियां बनकर तैयार हो गई हैं।
बहुत ही स्वादिष्ट और क्रिस्पी मूंगदाल की खस्ता लेयर्ड कचौरियां तैयार हैं। इन्हें गरमा गरम ही टमैटो सॉस, हरे धनिये की चटनी या अपनी किसी भी मनपसंद चटनी के साथ सर्व कीजिए। कचौरियों के पूरी तरह से ठंडा हो जाने के बाद इन्हें किसी भी एयर टाइट कंटेनर में भर कर रख दीजिए और 5-6 दिन तक जब आपका मन करें इन्हें परोसिये और खाइये।