मूल जमा कराने के लिए व्यापारियों को ब्याज में मिली छूट

– ब्याज माफी योजना की अवधि बढ़ाई
श्रीगंगानगर। पुरानी बकाया मूल रकम जमा करवाने के लिए कृषि विपणन विभाग ने ब्याज माफी योजना की अवधि बढ़ा दी है। इसके तहत पुराने बकायादार 31 अक्टूबर तक मूल रकम बिना ब्याज सहित संबंधित मंडी सचिव कार्यालयों में निर्धारित अवधि तक जमा करवा सकते हैं।
कृषि विपणन विभाग के निदेशक एनएम पहाडिय़ा ने कृषि उपज मंडी समिति के सचिवों को इस संबंध में आदेश जारी किए हैं। आदेश के अनुसार कृषि उपज मंडी समितियों की समस्त पुरानी बकाया राशि वसूली एवं प्रकरणों के निस्तारण के लिए ब्याज माफी योजना की अवधि बढ़ाई गई है। इसके तहत राज्य की कृषि उपज मंडियों के वैद्य अनुज्ञापत्रधारी और गैर अनुज्ञापत्रधारी (फुटकर दुकान, भूखंड आवंटी, कृषक कोटे के भूखंड आवंटी) केे विरूद्ध देय बकाया राशि की वसूली के लिए ब्याज माफी योजना 31 अक्टूबर तक प्रभावी रहेगी। शेष शर्तंे प्रासंगिक पत्रों द्वारा जारी ब्याज माफी योजनानुसार रहेगी। निदेशक ने सचिवों को आदेशित किया है कि बकायादारों को बढ़ाई अवधि जानकारी देते हुए उन्हें राशि जमा करवाने के लिए प्रोत्साहित किया जाए। पूर्व में पुराने बकाया रकम जमा करने की अवधि 30 सितंबर निर्धारित थी। विभाग ने उक्त अवधि को बढ़ाकर 31 अक्टूबर कर दिया है। बढ़ाई गई अवधि मेंं कृषि उपज मंडी समितियों के पुराने बकायादार संबंधित कार्यालयों में बिना ब्याज सहित मूल रकम जमा करवा सकते हैं।