मेल एस्कॉर्ट बनाने के नाम पर करोड़ों की ठगी

गाजियाबाद। नौकरी के नाम पर करोड़ों रुपये की ठगी करने वाले एक गैंग के मास्टरमाइंड समेत 5 लोगों को क्राइम ब्रांच ने सोमवार रात शास्त्री नगर से गिरफ्तार किया। आरोपी शास्त्री नगर के ही एक मकान से ठगी का कॉलसेंटर चला रहे थे। लोगों को झांसा देने के बाद आरोपी पेटीएम वॉलेट में रुपये ट्रांसफर करवाते थे। पेटीएम वॉलेट से पैसे बैंक खातों में ट्रांसफर किए जाते थे। सबसे ज्यादा कॉल आरोपियों के पास मेल एस्कॉर्ट बनने के लिए आते थे। आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि उनके पास सबसे ज्यादा कॉल मेल एस्कॉर्ट की जॉब के लिए आती थी। इसमें दिल्ली-एनसीआर, साउथ इंडिया, बिहार, छत्तीसगढ़ व दूसरे राज्यों के युवा शामिल थे। अधिक कॉल दिल्ली-एनसीआर और साउथ इंडिया से आती थी। आरोपियों ने बताया कि पेटीएम से रुपये मिलने के बाद वे एस्कॉर्ट के लिए अप्लाई करने वाले को एक सुंदर महिला का फोटो और मिलने वाली सैलरी के बारे में वट्सऐप से ही जानकारी देते थे। परी पेमेंट आने के बाद जालसाज नंबर बदल दिया करते थे। खास बात है कि जिन बैंक अकाउंट्स में रुपये ट्रांसफर होते थे, वे सभी किराए पर लिए गए थे। क्राइम ब्रांच प्रभारी दिनेश कुमार ने बताया कि गैंग सरगना आशु चौधरी के साथ हिमांशु, हर्ष, विराट और मोहित को गिरफ्तार किया गया है। इनके पास से पुलिस ने 7 स्मार्ट फोन के अलावा 12 सिम, कुछ लैपटॉप व एटीएम कार्ड बरामद किए हैं।