BREAKING NEWS
Search

मोदी के ‘लक्ष्य’ को ध्यान में रखेगी भाजपा

नई दिल्ली। यूपी और उत्तराखंड में प्रचंड जीत के बाद अब बीजेपी दोनों राज्यों में ऐसा सीएम चुनना चाहती है जो राज्य में पीएम नरेंद्र मोदी के विकास के अजेंडे और 2019 के लक्ष्य को ध्यान में रखकर काम करे। पार्टी गोवा और मणिपुर में शक्ति परीक्षण के बाद यूपी के सीएम के नाम की घोषणा कर सकती है। यूपी के सीएम पद की दौड़ में कई नाम सामने उभरकर आए हैं। लेकिन सूत्रों ने बताया कि पार्टी सबसे पहले सीएम पद के लिए सभी मानकों पर खरा उतरने वाले उम्मीदवार पर सर्वसम्मति बनाएगी।  इसमें उम्र और जातीय समीकरण का खास ख्याल रखा जाएगा। नया सीएम का चेहरा ऐसा होगा जो युवाओं में लोकप्रिय हो और विकासपरक सोच रखता हो। एक राजनीतिक विश्लेषक ने बताया, ‘चूंकि राज्य में बीजेपी गठबंधन के पास 325 विधायक हैं, तो उसपर किसी खास जाति या क्षेत्र से नेता चुनने की बाध्यता नहीं होगी। पार्टी वैसे व्यक्ति को सीएम बनाएगी जो 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए विकास के अजेंडे को आगे बढ़ाए।Ó