यह श्वान मातृत्व केंद्र है!

श्रीगंगानगर। जी हां, चित्र को देखकर आपके मन में आ सकता है कि यह श्वान मातृत्व केंद्र है क्या? परंतु बता दें कि यह जिला कलक्टर के कार्यालय अधीक्षक का ऑफिस है। यहां प्राय: आवारा कुत्ते स्वछंद घूमते नजर आते हैं। कई बार दरवाजे पर ही आपके स्वागत को तैयार रहते हैं। शुक्रवार को तो एक मादा श्वान अपने पिल्लों को दरवाजे पर दुग्धपान करवा रही थी और कार्यालय में कर्मी अपने कार्य में व्यस्त थे।