राजन ने उठाया सरकारी बैंकों में सैलरी का मामला

indexमुंबई। अगले महीने रिटायर हो रहे भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर रघुराम राजन ने सरकारी बैंकों में सैलरी का मामला उठाया है। उनका कहना है कि इन बैंकों में जहां निचले स्तर पर बढ़यिा पैसा मिलता है वहीं ऊपरी स्तर पर सैलरी काफी कम है। राजन ने इस दौरान मजाक में कहा कि उन्हें भी काफी कम सैलरी मिलती है। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों (पीएसयू) के प्रतिनिधियों से बातचीत के दौरान राजन ने मंगलवार को कहा, ‘सार्वजनिक क्षेत्र (सरकारी) की सभी इकाइयों के साथ एक दिक्कत यह है कि निचले स्तर पर जहां काफी अधिक सैलरी दी जाती है वहीं टॉप स्तर पर सैलरी काफी कम है। हां, आपको महसूस होता है कि आप व्यापक जनसमुदाय के लिए काम कर रहे हैं लेकिन टॉप टैलंट को आकर्षित करने में आपको मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।Ó कॉन्फ्रेंस के दौरान राजन ने मजाक में अपनी बात में यह भी जोड़ा, ‘मैं भी महसूस करता हूं कि मुझे कम पैसा (अंडरपेड) मिलता है।Ó