राज्य सरकार ने फिर झूठ बोला, अब 21 को घेरेंगे हनुमानगढ़ कलक्ट्रेट

– पूर्व विधायक हेतराम बेनीवाल ने सरकार पर लगाया वायदा खिलाफी का आरोप
श्रीगंगानगर। पूर्व विधायक का. हेतराम बेनीवाल ने राज्य की भाजपा सरकार को आड़े हाथों लेते हुए उस पर वायदा खिलाफी का आरोप लगाया है। बेनीवाल ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि 14 जून को जयपुर में सरकार के मंत्री व जल संसाधन विभाग के शासन सचिव शिखर अग्रवाल की मौजूदगी मेें संघर्ष समिति के तीस नेताओं की सकारात्मक वार्ता हुई, लेकिन अब सरकार के दबाव में अधिकारी अपने वादे से पूरी तरह से मुकर रहे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार आंदोलन की भाषा समझती है, इसलिए अब ऐटा-सिंगरासर माइनर के लिए 21 जून को हनुमानगढ़ कलक्ट्रेट घेरेंगे।
इस मौके पर उन्होंने बताया कि सरकार के मंत्री पुष्पेन्द्र सिंह व अधिकारी शिखर अग्रवाल ने स्पष्ट कहा था कि पानी उपलब्ध है, लेकिन पानी कहां देना है, इसकी पैरायटी राज्य सरकार तय करेगी, लेकिन अगले ही दिन चीफ इंजीनियर हनुमानगढ़ राजकुमार चौधरी ने पीआरओ के माध्यम से समाचार पत्रों में यह सूचना भिजवा दी कि पानी उपलब्ध नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार अपनी घोषणा को चुनाव क राजनीति से जोडऩे की कोशिश की है। 3264 करोड़ रुपये केन्द्र की ओर से, जो ऋण राजस्थान की सरकार को उपलब्ध करवाया है, उसकी एक किश्त मिली है और आगे मिलेगी जो पानी उपलब्ध होने के श्रोत हैं, उन पर कार्य किया जायेगा। तब जाकर पानी उपलब्ध होगा। बेनीवाल ने आरोप लगाया कि मौजूदा सरकार इस पानी को ऐसे क्षेत्रों में ले जाने की इच्छुक है, जिन क्षेत्रों को मजबूरन अनकमांड घोषित करना पड़ा। सरकार ऐटा-सिंगरासर व नोहर के गांवों को पानी देने की इच्छुक नहीं है। इस अवसर पर माकपा नेता का. श्योपतराम मेघवाल, राजू जाट, विजय अग्रवाल आदि कईं नेता उपस्थित थे।