लड़का-लड़की जयपुर में पकड़े

– जवाहरनगर पुलिस थाना के बाहर धरना समाप्त
श्रीगंगानगर। दूसरे धर्म के युवक से शादी करने के मामले में पुलिस को बड़ी राहत मिली है। लड़का-लड़की के जयपुर में पकड़े जाने के बाद यहां जवाहरनगर थाना के बाहर लगाया गया धरना समाप्त कर दिया गया है।
पुलिस उप अधीक्षक तुलसीदास पुरोहित ने बताया कि गुरूवार को एक लड़की के परिजनों की ओर से अर्जुन कॉलोनी निवासी सलीम खान के खिलाफ लड़की को बहला फुसला कर भगा कर ले जाने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया था। कुछ संगठनों के पदाधिकारियों ने इस मामले को लव जिहाद का नाम देते हुए कार्रवाई की मांग करते हुए धरना शुरू कर दिया था। जयपुर पुलिस से उन्हें सूचना मिली कि लड़का-लड़की को वहां पकड़ लिया गया है। अब जवाहरनगर पुलिस थाना की टीम दोनों लेकर यहां आयेगी।
उधर कांगे्रस नेता राजकुमार गौड़ आज दोपहर जवाहरनगर पुलिस थाना के सामने धरनास्थल पर पहुंचे। वहां मामले की जानकारी लेने के बाद सीओ सिटी से बातचीत की। श्री गौड़ ने बताया कि करीब आधा घंटा बाद सीओ सिटी धरनास्थल पर पहुंचे और जानकारी दी कि आरोपी युवक सलीम खान व लड़की को जयपुर पुलिस ने पकड़ लिया है। इस पर धरना उठा दिया गया। गौरतलब है कि इस मामले की सूचना मिलने पर पुलिस ने उस मौलवी से पूछताछ की, जिसने दोनों का निकाह करवाया था। मौलवी ने बताया कि 3 जनवरी को दोनों का निकाह करवाया था। युवक व उसके परिजनों ने लड़की अपने रिश्तेदारों की बताई थी, जबकि लड़की हिन्दू परिवार से थी। पूछताछ के बाद पुलिस ने मौलवी को घर भेज दिया। काबिले गौर की जवाहरनगर पुलिस थाना के निकट मोची मौहल्ला में रहने वाली लड़की के साथ शादी करके उसे घर भेज दिया गया था। 10 जनवरी की दोपहर को लड़की गायब हो गई थी। इसके बाद परिजनों ने गुरूवार को जवाहरनगर पुलिस थाना में मामला दर्ज करवाया।