सड़क हादसे ने ली दो की जान

– टेम्पो, रोडवेज बस व बाइक में भीषण टक्कर, पति-पत्नी की मौत, 13 जने घायल
श्रीगंगानगर। पदमपुर मार्ग पर गांव सहारणावाली के निकट आज सुबह टैम्पू, रोडवेज बस व मोटरसाइकिल की टक्कर में दम्पती की दर्दनाक मौत हो गई। हादसे में एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गये। घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। हादसे की सूचना मिलने पर पुलिस के आला अधिकारी मौके पहुंचे। दर्दनाक हादसा सुबह करीब सवा आठ बजे हुआ।
हादसे में गांव 23 जीजी चूनावढ़ निवासी 38 वर्षीय भूप सिंह पुत्र पोड़ी सिंह व उसकी पत्नी निम्मी की मौत हो गई। पति-पत्नी टैम्पू में सवार थे। घायल रघुवीर सिंह पुत्र हंसराज, बिमला देवी पत्नी हरीकिशन मेघवाल, हंसराज पुत्र हजारीराम, अजय सिंह पुत्र चिमन सिंह, सुमन पत्नी प्रहलाद, सुभाषचन्द्र पुत्र प्यारेलाल, दीपक पुत्र मनोहरलाल, सुरेन्द्र ङ्क्षसह पुत्र बब्लू सिंह, सुखविन्द्र सिंह, चरणजीत सिंह पुत्र दिलेर सिंह, विक्की पुत्र सुखजिन्द्र ङ्क्षसह, सज्जन सिंह पुत्र बलदेव सिंह, गोविन्दराम पुत्र रामलाल को जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।
इनमें दो-तीन घायलों को अधिक चोटें आई हैं। जानकारी के अनुसार राजस्थान रोडवेज की बस श्रीगंगानगर से पदमपुर जा रही थी। रास्ते में गांव सहारणावाली के निकट लिंक रोड़ से एक बाइक सवार अचानक मैन रोड पर आ गया। बाइक सवार युवक को बचाने के लिए बस चालक ने कट मारा, तो सामने से आ रहे टैम्पू से टक्कर हो गई।
तेज रफ्तार बस टैम्पू को कुचलते हुए पेड़ से जा टकराई। बस के नीचे कुचले जाने पर भूप सिंह व उसकी पत्नी ने दम तोड़ दिया। भीषण हादसे का शोर सुन कर आसपास के ग्रामीण वहां पहुंच गये और घायलों को एम्बूलैंस व निजी वाहनों की मदद से जिला अस्पताल में पहुंचाया। दुर्घटनाग्रस्त टैम्पू चूनावढ़ कोठी से श्रीगंगानगर की तरफ आ रहा था।
भयावह हादसे की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक हरेन्द्र महावर व पुलिस उप अधीक्षक तुलसीदास पुरोहित व सदर पुलिस मौके पर पहुंचे। पुलिस ने दुर्घटनाग्रस्त वाहनों को सड़क से दूर करके यातायात व्यवस्था बहाल करवाई।
पुलिस ने बताया कि हादसे के सभी घायल चूनावढ़ थाना क्षेत्र के रहने वाले हैं। सदर पुलिस ने बताया कि घायलों के बयान दर्ज किए जा रहे हैं। दम्पति के शव का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है। आज दोपहर समाचार लिखे जाने तक पुलिस ने दुर्घटना का मुकदमा दर्ज नहीं किया था।
पुलिस को झेलना पड़ा विरोध
गांव सहारणावाली के निकट आज सुबह भीषण हादसा की सूचना तुरंत देने के बावजूद देरी से पहुंची पुलिस को लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा। जब तक पुलिस मौके पर पहुंची, तब तक घायलों को जिला अस्पताल में पहुंचाया जा सकता था। पुलिस अधिकारियों के साथ मौके पर पहुंची आरएसी के जवानों ने भीड़ को हटाना शुरू कर दिया।
इस पर गुस्साए लोगों ने पुलिस अधिकारियों से कहाकि करीब पौने घंटे पहले ही घायलों को उन्होंने अस्पताल में पहुंचा दिया था। पुलिस देरी से आई है और उन्हें ही धक्के मार कर दूर कर रही है। पुलिस अगर उन्हें धक्के दे रही है, तो समय पर आकर घायलों को संभाल लेना चाहिए था। पुलिस अधीक्षक ने हस्तक्षेप करके ग्रामीणों को शांत करवाया।
बस चालक पर मुकदमा दर्ज
चूनावढ़-श्रीगंगानगर मार्ग पर आज सुबह सड़क हादसे को लेकर सदर पुलिस ने एक घायल के पर्चा बयान पर रोडवेज बस चालक के खिलाफ लापरवाही से वाहन चलाने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस के अनुसार हंसराज मेघवाल निवासी वार्ड नम्बर 8 रामदेव मंदिर के निकट, गोलूवाला के पर्चा बयान पर रोडवेज बस नम्बर आरजे 13 पीए-6102 के चालक पर मुकदमा दर्ज किया है। हंसराज मेघवाल ने बताया कि चालक ने लापरवाही से वाहन चला कर सामने से आ रहे टैम्पू में टक्कर मार दी, जिससे दो जनों की मौत हो गई।