समा के चावल की कचौरी

समा के चावल की करारी-करारी कचौरी, व्रत के लिए विशेष।
सामग्री:
समा के चावल – 1 कप से थोड़े कम (150 ग्राम)
आलू – 2 (उबले हुए)
हरा धनिया – 2 से 3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
तेल – 2 छोटे चम्मच
भूना जीरा – 1/2 छोटी चम्मच
काली मिर्च – 1/4 छोटी चम्मच (कुटी हुई)
सेंधा नमक – 1/3 छोटी चम्मच या स्वादानुसार
हरी मिर्च – 1 (बारीक कटी हुई)
तेल – तलने के लिए
विधि: समा के चावल को अच्छी तरह से साफ करके धोकर 2 घंटे के लिए पानी में भिगो दीजिए। 2 घंटे बाद, चावलों में से अतिरिक्त पानी हटा दीजिए। मिक्सी में भीगे हुए समा के चावल डालिए और पीसकर पेस्ट तैयार कर लीजिए।
चावल का पेस्ट भूनिए: नॉन स्टिक कढ़ाही में चावल के पेस्ट को डाल दीजिए और मध्यम आंच पर लगातार कलछी से चलाते हुए 2 मिनिट भूनकर गाढ़ा कर लीजिए। चावल के पेस्ट के गाढ़ा होने के बाद, इसे थोड़ी देर और भूनकर हल्के गुंथे आटे के जैसा तैयार कर लीजिए। इस चावल के आटे को एक प्याले में निकाल लीजिए और थोड़ा सा ठंडा होने दीजिए।
भुने पेस्ट से नरम आटा तैयार कीजिए: आटे में 1/3 छोटी चम्मच सेंधा नमक और 3 छोटी चम्मच तेल डाल दीजिए और आटे को अच्छे से मसलते हुए चपाती के आटे से भी नरम तैयार कर लीजिए। अगर आटा हल्का सा भी सख्त लगे तो 1 या 2 छोटी चम्मच पानी डाल लीजिए और इसी तरह मसलकर नरम कर लीजिए। आटे को ढककर रख दीजिए।
स्टफिंग तैयार कीजिए: उबले आलू को छीलकर एक प्याले में तोड़ लीजिए। आलू में 1/3 छोटी चम्मच या स्वादानुसार सेंधा नमक, हरी मिर्च, कुटी हुई काली मिर्च, भुना जीरा और हरा धनिया डाल दीजिए। सभी सामग्री को अच्छे से मिलने तक मिक्स कर लीजिए।
कचौरी बनाइए: आटे से नींबू के आकार की छोटी-छोटी लोइयां तोड़ लीजिए। साथ ही कचौरियां तलने के लिए गैस पर कढ़ाही में तेल गरम होने रख दीजिए। एक लोई उठाइए और हाथों पर थोड़ा सा तेल लगाकर लोई को गोल कर लीजिए। लोई को बीच में से उंगली से दबाइए और कटोरी का आकार दे दीजिए। इस कटोरीनुमा लोई में 1 चम्मच स्टफिंग रखिए। लोई को चारों तरफ से उठाकर स्टफिंग बंद कर दीजिए।
स्टफ्ड लोई को हाथ से दबाव देते हुए गोल कर लीजिए। दोनों हथेलियों से लोई दबाकर बढ़ाइए और कचौरी का आकार दे दीजिए। इस तरह सारी कचौरियां भर कर तैयार कर लीजिए।
कचौरियां तलिए: कचौरियां तलने से पहले चैक कर लीजिए कि तेल गरम हुआ या नही। इसके लिए, तेल में थोड़ा सा आटा डालकर चैक कर लीजिए, आटा धीरे-धीरे सिक रहा है, तेल मध्यम गरम है। इतने ही गरम तेल में कचौरियां तलने के लिए डाल दीजिए। कचौरी के नीचे वाली साइड हल्का सा ब्राउन होते ही, इसे पलट दीजिए और दोनों ओर से गोल्डन ब्राउन होने तक तल लीजिए।
अच्छे से तली हुई कचौरियों को टिशू पेपर बिछाकर रखी हुई प्लेट में निकाल लीजिए और इसी तरह सारी कचौरियां बनाकर तैयार कर लीजिए। इतने आटे में 9 से 10 कचौरियां बन जाती है।
समा के चावल की क्रिस्पी कचौरियों को दही और व्रत वाली मीठी खजूर की चटनी के साथ सर्व कर सकते हैं। व्रत के लिए कभी कुछ स्पेशल बनाना हो या आपका व्रत में मन करे कुछ अलग खाने का तब आप ये कचौरियां बना सकते हैं।