BREAKING NEWS
Search

सम्पत नेहरा के गैंगस्टर को जेल से फरार करवाने की थी साजिश

– गैंग से जुड़े चार जने हथियारों सहित दबोचे
चंडीगढ़। नाभा जेल ब्रेक के मुख्य आरोपी विक्की गौंडर व उसके दो अन्य साथियों का एन्काउंटर करने वाली आर्गेनाइज क्राइम कंट्रोल यूनिट की मोहाली टीम ने अब कुख्यात अपराधी संपत नेहरा गैंग की गैंग के चार कुख्यात गैंगस्टरों को गिरफ्तार किया है। ये गैंगस्टर हथियार व बिना नंबर की कार सहित पुलिस के हत्थे चढ़े हैं। इन अपराधियों ने जेल में बंद कुख्यात बदमाश सम्पत नेहरा के एक गुर्गे को जेल से फरार करवाना था।
गिरफ्तार आरोपियों की पहचान सोनू कुमार निवासी ढाबी गुजरां (संगरूर), करन कुमार उर्फ विपन कुमार निवासी बनूड़, मनप्रीत निवासी जलालाबाद व गौरव निवासी झांसला के रूप में हुई है। आरोपियों से पुलिस को दो पिस्टल, कारतूस व बिना नंबर की एक कार बरामद हुई है। आईजी कुंवर विजय सिंह ने बताया कि डीएसपी जसकीरत सिंह को गुप्त सूचना मिली थी कि उक्त गैंगस्टर किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की फिराक में हैं। पुलिस ने ट्रैप लगाकर उक्त आरोपियों को गिरफ्तार किया। आरोपी 20 जून तक पुलिस रिमांड पर है।
पुलिस के अनुसार लारेंस बिश्नोई व संपत नेहरा की गिरफ्तारी के बाद इस गैंग का दबदबा कम होता जा रहा था। इसलिए आरोपियों ने इस गैंग का दबदबा कायम रखने के लिए मौजूदा समय में नाभा जेल में बंद बनूड़ निवासी कुख्यात गैंगस्टर दीपू व संपत नेहरा की गैंग के शॉर्प शूटर दीपक उर्फ टीनू को फरार करवाना था।