साबुत मोठ करी

पंजाब और राजस्थान में मटके की दाल के नाम से मशहूर मोठ की दाल, आपको कराए एक अलग स्वाद का अनुभव।
सामग्री:
मोठ की दाल- 1/2 कप (100 ग्राम)
टमाटर- 1 (100 ग्राम)
घी- 2 से 3 टेबल स्पून
हरा धनिया- 2 से 3 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)
जीरा- 1/2 छोटी चम्मच
हींग- 1/2 पिंच
हल्दी पाउडर- 1/4 छोटी चम्मच
धनिया पाउडर- 1 छोटी चम्मच
लाल मिर्च पाउडर- 1/4 छोटी चम्मच
गरम मसाला- 1/4 छोटी चम्मच से कम
हरी मिर्च- 2 (बारीक कटी हुई)
अदरक- 1/2 छोटी चम्मच
नमक- 1 छोटी चम्मच से कम या स्वादानुसार
बेकिंग सोडा- 1 पिंच
विधि: मोठ की दाल को अच्छे से साफ करके धोकर 8 घंटे या रात भर के लिए भिगोकर रख दीजिए। बाद में, इसमें से अतिरिक्त पानी हटा दीजिए।
टमाटर का पेस्ट तैयार कर लीजिए।
कुकर में भीगी हुई मोठ दाल, 2 कप पानी, नमक, आधा हल्दी पाउडर और बेकिंग सोडा डालकर मिक्स कर दीजिए। कुकर बंद करके दाल को 1 सीटी आने तक पकने दीजिए। इसके बाद, दाल को और 5 मिनिट धीमी आंच पर पका लीजिए। फिर, गैस बंद कर दीजिए और दाल को कुकर का प्रैशर खत्म होने तक कुकर में रहने दीजिए।
मसाला तैयार कीजिए
पैन में घी गरम कीजिए। घी में जीरा डालिए और धीमी आंच करके हींग, बचा हुआ हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर, हरी मिर्च और अदरक का पेस्ट डाल दीजिए। मसाले को हल्का सा भूनकर इसमें टमाटर का पेस्ट और लाल मिर्च पाउडर डाल दीजिए। मसाले से घी अलग होने तक इसे भून लीजिए।
भुने मसाले में दाल डालकर मिक्स कर दीजिए। गरम मसाला और हरा धनिया डालकर मिला दीजिए। दाल को ढककर 2 मिनिट पका लीजिए।
मोठ दाल के ऊपर थोड़ा सा घी, हरा धनिया और बारीक पतले कटे अदरक डालकर गार्निश कीजिए। इसे चपाती, नान या चावल के साथ सर्व कीजिए। यह दाल पाचन के लिए भी अच्छी होती है। इस दाल को बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी को दे सकते हैं।