सार्वजनिक स्थानों पर न पढ़ी जाए नमाज : मनोहर लाल

चंडीगढ़। दिल्ली से सटे गुरुग्राम में खुले में नमाज पढऩे को लेकर उपजे विवाद के बाद हरियाणा सरकार ने बड़ा बयान दिया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने विदेश जाने से पहले दो टूक कह दिया कि निर्धारित स्थानों पर ही नमाज पढ़ी जानी चाहिए। सार्वजनिक स्थान इस कार्य के लिए निर्धारित नहीं होते। चंडीगढ़ में रविवार को पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि नमाज पढऩे के लिए मस्जिद और ईदगाह होते हैं। इसके अलावा अपने निजी स्थान अथवा घर पर नमाज पढ़ी जा सकती है, लेकिन सार्वजनिक स्थानों पर नमाज पढ़कर प्रदर्शन करना उचित नहीं है। यदि नमाज पढऩे के लिए निर्धारित स्थान कम पड़ते हैं तो संबंधित संस्थाओं के माध्यम से इनका निर्माण कराया जा सकता है।