सुषमा स्वराज ने की मदद, बोहरा समुदाय के 33 बच्चों को वीजा दिलाने का फैसला

नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने जरूरतमंद पाकिस्तानी बच्चों पर फिर दरियादिली दिखाई है। इस बार मामला पाकिस्तान के किसी बीमार बच्चे का भारत में इलाज का नहीं, बल्कि बोहरा समुदाय के एक धार्मिक आयोजन में शिरकत का है। जी हां, सुषमा स्वराज की पहल पर सरकार ने पाकिस्तान के बोहरा समुदाय के 33 बच्चों को वीजा देने का फैसला किया है। सुषमा स्वराज ने सोमवार को ट्विटर के जरिये यह जानकारी साझा की। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, ‘हमने मुंबई स्थित बोहरा समुदाय के धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन के निमंत्रण पर पाकिस्तान के 33 बोहरा बच्चों को भारत का वीजा देने की मंजूरी दी है।Ó बोहरा समुदाय के लोग दुनिया भर में फैले हैं। उसके आध्यामिक धर्मगुरु मुंबई में रहते हैं। एक अन्य मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने एक पाकिस्तानी बच्चे मुजामिल को इलाज के लिए वीजा देने की अनुमति दे दी। मुजामिल की भारत में हार्ट सर्जरी होनी है।