सूर्यदेव ने बदली राशि, पहुंचे शत्रु के घर में

– विभिन्न राशियों पर पड़ेगा राशि परिवर्तन का अलग-अलग असर
श्रीगंगानगर। सभी ग्रहों मेंं ताकतवर सूर्यदेव ने आज मंगलवार को अपने शत्रु के घर यानी वृषभ राशि में प्रवेश कर लिया। सूर्यदेव वृषभ राशि में एक महीने तक रहेंगे। सूर्य का शत्रु राशि में प्रवेश सभी बारह राशियों के जातकों को प्रभावित करेगा। इससे राजनीति में उलटफेर की संभावना रहेगी। कुछ वस्तुओं मेंं तेजी आएगी तो कुछ वस्तुओं में मंदी का रुख होगा।
पंडित सत्यपाल पाराशर ने बताया कि ग्रहों का राजा सूर्य हर माह अपनी राशि बदलता है। अब तक सूर्य देव मेष राशि में चल रहे थे। सूर्य ने मेष में चौदह अप्रेल को प्रवेश किया था। सूर्य देव ने आज तड़के 4.23 बजे वृषभ राशि में प्रवेश किया। वृषभ राशि में आकर सूर्य शत्रु के क्षेत्र में पहुंच गए हैं क्योंकि ज्योतिषीय ग्रह मैत्री के अनुसार सूर्य व शुक्र नैसर्गिक रूप से शत्रु माने जाते हैं। वृषभ राशि के स्वामी शुक्र हैं। चंद्रमा, मंगल और गुरु सूर्य के मित्र हैं जबकि शुक्र, शनि और राहु-केतु सूर्य के शत्रु माने गये हैं। वहीं बुध के साथ सूर्य सम भाव रखता है।
उन्होंने बताया कि सूर्य के राशि परिवर्तन से पन्द्रह दिनों के भीतर चांदी, सोना, गुड़, शक्कर, कपास, रूई, सूत, बादाम, सुपारी, नारियल, तिल, तेल, सरसों आदि में तेजी आएगी जबकि जौ, चना, गेहूं, अरह, मूंग, चावल आदि में कुछ मंदी आ सकती है। उन्होंने बताया कि सूर्य के शत्रु के क्षेत्र में होने से राजनीति में उलटफेर होने की संभावना रहेगी। राजनीति में उतार-चढ़ाव देखने को मिलेंगे।
सूर्य के शुभ प्रभाव से जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में उच्च सफलता हासिल होती है जबकि खराब स्थिति होने से मान-सम्मान में कमी, पिता को कष्ट और नेत्र पीड़ा मिलती है। शासकीय अधिकारियों और कर्मचारियों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।