BREAKING NEWS
Search

सौंफ शरबत

गर्मियों के लिए मेडिशनल रेसिपी- सौंफ शरबत। यह ठंडक तो दे ही, साथ ही पाचन क्रिया को भी सुधारे। यहां तक कि नकसीर की परेशानी का भी इलाज करे।
सामग्री:
भीगी हुई सौंफ- 1 कप
भीगी हुई इलायची- 40
चीनी- 1 किलो (4.5 कप)
चीनी- 3 से 4 टेबल स्पून (सौंफ और इलायची पीसने के लिए)
विधि: सौंफ को साफ करके धोकर 1.5 कप में पानी में 5 घंटे के लिए भिगो दीजिए। इलायची को भी धोकर थोड़े से पानी में भिगो दीजिए।
सौंफ पीसने के लिए मिक्सर जार में सौंफ और साथ में 2 से 3 टेबल स्पून चीनी डाल दीजिए ताकि सौंफ जल्दी से पिस जाए। सौंफ सूखी लगे, तब इसमें थोड़ा सा पानी डालकर इसे बारीक पीस लीजिए।
पिसी हुई सौंफ को छलनी से छानकर और इसे दबा-दबाकर इसका जूस प्याले में निकाल लीजिए। छलनी में बची मोटी सौंफ को किसी प्याले में डालिए। सारी सौंफ इसी तरह पीसकर जूस निकाल लीजिए। प्याले में डाली हुई मोटी सौंफ में 1/2 कप पानी मिलाकर इसे फिर से पीसकर या फिर ऐसे ही छान लीजिए।
भीगी हुई इलायची को जार में थोड़ी सी चीनी के साथ डालिए और एकदम बारीक होने तक पीस लीजिए। इसे भी सौंफ की तरह ही छान लीजिए और मोटा भाग हटा दीजिए।
चाशनी बनाएं
बर्तन में चीनी और सौंफ-इलायची का तैयार जूस डाल दीजिए। इसे गाढ़ा होने तक थोड़ी-थोड़ी देर में चलाते हुए लीजिए। चाशनी की कन्सिस्टेन्सी ?सी होनी चाहिए कि जब चाशनी की आखिरी बूंद गिराकर देखें, तो वह तार की तरह दिखे। इस कन्सिस्टेन्सी पर आने तक चाशनी को चलाते हुए पकाएं और बर्तन के किनारे पर जो सौंफ का फाइबर झाग के रूप में इक_ा हो रहे हो, उसे चमचे से निकालकर प्याले में डाल दीजिए।
बाद में, इसे चैक कीजिए। शरबत की गाढ़ी कन्सिस्टेन्सी आते ही गैस बंद कर दीजिए। कन्सन्ट्रेटिड सौंफ का शरबत तैयार है। शरबत सर्व करने के लिए गिलास में 2 टेबल स्पून कन्सन्ट्रेटिड सौंफ का शरबत डालिए और ऊपर से ठंडा पानी और थोड़ी से बर्फ के टुकड़े डाल दीजिए।
ठंडा-ठंडा सौंफ का शरबत तैयार है। यह मेडिशनल शरबत है। शरीर को ठंडक देने के साथ-साथ पाचन क्रिया को भी दुरूस्त करता है। गर्मी के दिनों में यदि बच्चों को नकसीर आने लगे, तब इसे पिलाया जाए, तो 2 दिन में नाक से खून आना बंद हो जाता है। कन्सन्ट्रेटिड सौंफ शरबत को बोतल में भरकर फ्रिज में रख लें तो 2 महीने से भी ज्यादा इस्तेमाल किया जा सकता है।