हनीप्रीत और डेरा प्रवक्ता को विदेश भागने से रोकने के प्रयास

– हनीप्रीत के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा, ‘लुकआउट नोटिसÓ जारी
– गुरमीत राम रहीम को भगाने की साजिश रचने का आरोप
चंडीगढ़। डेरा मुखी गुरमीत राम रहीम को कोर्ट से भगाने के मामले में पुलिस ने उसकी तथाकथित मुंहबोली बेटी हनीप्रीत के खिलाफ देशद्रोह का केसर दर्ज कर लुकआउट नोटिस जारी कर दिया है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार डेरा प्रमुख को दोषी करार देने के बाद राम रहीम के गनमैन उसे कोर्ट से भगाकर लेकर जाना चाहते थे. इस पूरे मामले की साजिश हनीप्रीत ने रची थी, जिसके चलते पुलिस ने हनीप्रीत के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा दर्ज कर दिया है. वहीं हनीप्रीत के विदेश भागने की आशंका के चलते पुलिस ने उसके और डेरे के प्रवक्ता के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया है, ताकि वे कहीं विदेश ना भाग जाए। 25 अगस्त यानी शुक्रवार को डेरा प्रमुख राम रहीम को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने साध्वियों से यौन शोषण मामले में दोषी ठहराया था. सूत्रों की मानें तो दोषी ठहराए जाने के बाद राम रहीम को भगाने का प्लान तैयार किया गया था. हरियाणा पुलिस और सेना की मुस्तैदी से उनके प्लान पर पानी फिर गया।
बीते सोमवार इस मामले में सीबीआई जज जगदीप सिंह ने राम रहीम को 20 साल की सजा सुनाई थी. कहा जा रहा है कि इसके बाद से ही हनीप्रीत इंसा अंडरग्राउंड हो गई. हनीप्रीत के सुनारिया जेल परिसर से निकलने के बाद रोहतक के आर्य नगर में ही किसी डेरा प्रेमी संजय चावला के घर रुकने की बात भी सामने आई थी। अगली सुबह वह परिवार भी घर से गायब मिला। आर्य नगर में इस रात संजय चावला के घर देर रात दो गाडिय़ां आईं थीं. उसके बाद से हनीप्रीत का कुछ पता नहीं है. तभी से हरियाणा पुलिस भी हनीप्रीत की तलाश में जुटी है। हनीप्रीत कहां है, ये एक रहस्य बना हुआ है। फिलहाल हरियाणा पुलिस के साथ-साथ लोकल जांच एजेंसियां भी सरगर्मी से हनीप्रीत की तलाश कर रही हैं।
कौन है हनीप्रीत इंसा
हनीप्रीत का असली नाम प्रियंका तनेजा है. हरियाणा के फतेहाबाद की रहने वाली प्रियंका तनेजा उर्फ हनीप्रीत और विश्वास गुप्ता की शादी 14 फरवरी, 1999 को डेरा प्रमुख राम रहीम ने ही कराई थी. हालांकि दोनों की शादी ज्यादा दिन नहीं चल सकी. राम रहीम ने साल 2009 में उसे गोद ले लिया. राम रहीम की खुद की दो बेटियां और एक बेटा है। 2011 में विश्वास गुप्ता ने पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में मुकदमा दायर कर राम रहीम के कब्जे से हनीप्रीत को मुक्त कराने की मांग की थी. गुप्ता ने राम रहीम पर हनीप्रीत के साथ अवैध संबंध होने का भी आरोप लगाया था।