2018 के अंत तक 2 करोड़ गरीबों को घर बनाकर देगी मोदी सरकार

नई दिल्ली। मोदी सरकार 2019 के लोकसभा चुनाव की तैयारियां तेज करते हुए अपनी महात्वकांक्षी योजना ‘सबके लिए घरÓ को चुनावों से पहले पूरा करना चाहती है। केंद्र की योजना 2018 के अंत तक शहरी और ग्रामीण गरीबों को कुल दो करोड़ घर बनाकर देने की है। लोकसभा चुनाव के मद्देनजर प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) के तहत इस साल के अंत तक 1 करोड़ घरों का निर्माण पूरा हो सकता है। वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों ने इकनॉमिक टाइम्स को बताया कि शहरों में 1.18 करोड़ घरों का निर्माण कार्य 2022 के बजाय साल 2020 तक पूरा कर लिया जाएगा। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘ग्रामीण इलाकों में 1 करोड़ घरों को इस साल के अंत तक इसका लाभ पाने वाले लोगों के लिए आवंटित कर दिया जाएगा।