BREAKING NEWS
Search

23 साल पहले लापता पंचेन लामा पर निर्वासित सरकार ने जारी किया वीडियो

धर्मशाला। ग्यारहवें पंचेन लामा गेधुन चियोकी नियामा के लापता होने की 23वीं वर्षगांठ पर तिब्बत की निर्वासित सरकार के सूचना और अंतरराष्ट्रीय संबंध विभाग ने गुरुवार को एक वीडियो जारी किया। तीन मिनट के वीडियो में तिब्बत से लापता हुए पंचेन लामा के मामले में अंतरराष्ट्रीय समुदाय की ओर से जताई गई चिंता के प्रमुख अंशों पर प्रकाश डाला गया है। वीडियो में यूरोपीय संसद की ओर से पंचेन लामा की मान्यता को चीन द्वारा रद करने व कई देशों की ओर से लामा की रिहाई के लिए उठाए गए कदमों को भी दिखाया गया है। कुछ दिन पूर्व ही तिब्बतियों के धर्मगुरु दलाईलामा ने पंचेन लामा के सकुशल होने का दावा किया था। उन्होंने यह भी दावा किया था कि पंचेन लामा सामान्य शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। अब दोबारा निर्वासित सरकार ने पंचेन लामा की सकुशल वापसी के समर्थन में वीडियो जारी किया है। पंचेन लामा का जन्म 25 अप्रैल, 1989 को तिब्बत में हुआ था। दलाईलामा ने गेधुन चियोकी नियामा को छह वर्ष की आयु में ही 11वें पंचेन लामा के रूप में मान्यता दी थी। इसके बाद चीन सरकार ने पंचेन लामा को 1995 में बंदी बनाया था और अब तक उनका कोई पता नहीं चल सका है। हालांकि निर्वासित सरकार सहित अंतरराष्ट्रीय समुदाय भी पंचेन लामा की रिहाई की मांग उठाता रहा है, लेकिन इसके अभी तक सकारात्मक परिणाम सामने नहीं आए हैं।