25 प्रतिशत लीवर के सहारे जिंदा हैं अमिताभ

मुम्बई। एंग्री यंग मैन से लेकर शहंशाह, बिग बी और महानायक बनने तक अमिताभ बच्चन के लगभग 50 साल के करियर में कई बार उनकी हेल्थ ने उनका साथ छोड़ा है. कई बार ऐसा हुआ है जब अमिताभ अस्पताल में भर्ती हुए और दुनिया भर से फैंस ने उनकी जिंदगी के लिए दुआएं कीं. इस सबसे जूझने के बाद भी आज अगर वह टीवी से लेकर बड़े परदे और सोशल मीडिया तक हर तरफ सक्रिय हैं, तो इसके पीछे आखिर राज क्या है!एक के बाद एक हेल्थ प्रॉबल्म्स का सामना करना किसी के लिए भी आसान नहीं होता. बिग बी के लिए भी नहीं था, मगर उनका पैशन और फैंस की दुआएं ही थीं कि वह आगे बढ़ते गए. ये सिलसिला शुरू हुआ था सन् 1982 में फिल्म कुली की शूटिंग के दौरान. इस फिल्म के लिए शूट करते वक्त अमिताभ को चोट लग गई थी। इसमें उनका काफी खून बह गया था. स्थिति ऐसी थी कि डॉक्टरों ने उन्हें क्लीनिकली डेड घोषित कर दिया गया था. हर तरफ से उनके लिए दुआएं की जा रही थीं. दुआओं का नतीजा भी मिला कि बिग बी फिर अपनी सिनेमाई दुनिया में लौटे.