46 हजार से अधिक ड्राइविंग लाइसेंस होंगे कैंसल

जयपुर। ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने पर राजस्थान में 46 हजार ड्राइविंग लाइसेंस को निरस्त किया जाएगा। प्रदेश का परिवहन विभाग ट्रैफिक पुलिस की सिफारिश पर 10 हजार 943 ड्राइविंग लाइसेंस को पहले ही निरस्त कर चुका है। राज्स्थान में परिवहन विभाग व ट्रैफिक पुलिस मिलकर सुरक्षित यातायात के लिए लगातार कोशिश कर रही है।
इसी के मद्देनजर परिवहन विभाग कार्रवाई कर रहा है। राज्य के परिवहन मंत्री युनूस खान ने रोड सेफ्टी काउंसिल की मीटिंग के बाद बताया कि अब तक 10 हजार 943 डीएल कैंसल किए जा चुके हैं। मंत्री युनूस खान ने यह भी बताया कि रोड सेफ्टी के लिए ष्टरू ने 80 करोड़ रुपये का बजट स्वीकृत किया है। इसके तहत पुलिस विभाग को 20 इन्टरसेप्टर वाहन दिए गए है। वहीं सवाईमानसिंह अस्पताल के ट्रामा सेंटर 12 अत्याधुनिक बैड युक्त 3 करोड़ 23 लाख की लागत से आईयूसी का निर्माण कराया जा रहा है। सुरक्षित यातायात के मद्देनजर एमएमस मेडिकल कॉलेज के ट्रामा सेंटर के डॉक्टरों को जेपीएन एपेक्स ट्रॉमा सेंटर एम्स की तरफ से बीएलएस ट्रेनिंग दी जा चुकी है। परिवहन मंत्री ने इस बात पर दुख जताया है कि जनजागृति के अभाव में सड़क हादसों में कमी का फीसदी संतोषजनक नहीं है उन्होंने बताया कि यूं तो पूरे प्रदेश में हेलमेट जरूरी है, लेकिन लोग पुलिस के भय से नहीं, बल्कि अपनी जान की मूल्य को देखते हुए हेलमेट को पहनने। उन्होंने बोला कि अब परिवहन विभाग व्यक्तिगत स्कूलों में सड़क सुरक्षा अभियान के तहत छात्र-छात्राओं को जोड़ेगा। साथ ही प्रदेश में 821 पुलिस थानों को 10-10 हजार रुपये सड़क सुरक्षा अभियान के लिए दिए गए है। साथ ही 12 ऑटोमेडेट एवं 25 ड्राइविंग टेस्टिंग ट्रैक का निर्माण कराया जा रहा है।