चेन्नई। चक्रवाती तूफान वरदा से प्रभावित तमिलनाडु के चेन्नई, तिरुवल्लूर और कांचीपुरम जिलों में हर तरफ तबाही जैसा मंजर है। हजारों पेड़, होर्डिंग्स और बिजली व टेलीफोन के टूटे हुए तार जहां-तहां बिखरे हैं। लिहाजा, कई इलाकों में बिजली आपूर्ति एक दिन बाद भी बहाल नहीं हो सकी। हालांकि, हवाई यातायात मंगलवार सुबह बहाल हो ..." />
Breaking News

चक्रवाती तूफान के बाद अंधेरे में डूबा चेन्नई

चेन्नई। चक्रवाती तूफान वरदा से प्रभावित तमिलनाडु के चेन्नई, तिरुवल्लूर और कांचीपुरम जिलों में हर तरफ तबाही जैसा मंजर है। हजारों पेड़, होर्डिंग्स और बिजली व टेलीफोन के टूटे हुए तार जहां-तहां बिखरे हैं। लिहाजा, कई इलाकों में बिजली आपूर्ति एक दिन बाद भी बहाल नहीं हो सकी। हालांकि, हवाई यातायात मंगलवार सुबह बहाल हो गया।
राज्य में तूफान के कारण हुए हादसों में मरने वालों की संख्या बढ़कर 18 हो गई है। करीब 100 राहत केंद्रों में 13 हजार से ज्यादा लोगों को ठहराया गया है। एसोचैम ने तूफान से राज्य में करीब 6,749 करोड़ रुपये के नुकसान का अनुमान लगाया गया है।

Related Posts

error: Content is protected !!