अगर रूटीन में थोड़ा बदलाव लाया जाए और आदतों में फेरबदल किया जाए तो कुछ हद तक अपनी खूबसूरती को अपने काबू में रख सकते हैं। त्वचा की थोड़ी देखभाल करें तो आप काफी हद तक इस परेशानी से निजात पा सकती हैं। रात को उसे अनदेखा करना खतरनाक है। यह त्वचा के लिए ठीक ..." />
Breaking News

इस वक्त जरा न करें त्वचा को अनदेखा

अगर रूटीन में थोड़ा बदलाव लाया जाए और आदतों में फेरबदल किया जाए तो कुछ हद तक अपनी खूबसूरती को अपने काबू में रख सकते हैं। त्वचा की थोड़ी देखभाल करें तो आप काफी हद तक इस परेशानी से निजात पा सकती हैं। रात को उसे अनदेखा करना खतरनाक है। यह त्वचा के लिए ठीक नहीं है इसलिए सोने से पहले जरूर ध्यान रखें…
सफाई
अपनी त्वचा के टाइप के अनुसार फेसवॉश के लिए क्लींजर का उपयोग करें। इससे आपकी त्वचा साफ रहेगी और मुंहासों की समस्या से दूर होंगे।
टोनर
चेहरे की त्वचा पर टोनर का इस्तेमाल करने से रोम छिद्रों का आकार कम हो जाता है और चेहरा धोने के बाद टोनर का इस्तेमाल करने से त्वचा का पीएच लेवल वापस आ जाता है। इसलिये ये बहुत जरुरी है कि क्लींजिंग के बाद चेहरे को टोनअप करना ना भूलें।
आईक्रीम
आंखों के पास की त्वचा काफी सोंसिटिव होती है, इसलिए इनकी देखभाल भी बहुत जरुरी होती है। आंखों के पास की त्वचा की देखभाल करने के लिए रात को सोने से पहले एक अच्छे मॉश्चराइजिंग क्रीम से मालिश करें ताकि काले घेरे ना हो।
सीरम
उम्र बढऩे के साथ एजिंग के लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो ऐसे में आपको सीरम की जरुरत है। आपको अपनी त्वचा के अनुसार एंटी एजिंग सीरम का इस्तेमाल करना चाहिए। इससे आपके त्वचा से एजिंग के लक्षण कम होने लगेंगे।
मॉइश्चराइजर
उम्र ढ़लने के साथ ही शरीर की त्वचा भी ढ़ीली पडऩे लगती है और इसमें लचीलापन कम होने लगता है। त्वचा में कोलेजन का निर्माण भी बंद हो जाता है जिससे त्वचा शुष्क पडऩे लगती है। इसके लिए आपको बराबर मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करते रहना चाहिए।
एंटी एजिंग क्रीम
त्वचा पर मॉइश्चराइजर लगाने के बाद ट्रीटमेंट क्रीम जैसे एंटी एजिंग क्रीम लगायें। ऐसी क्रीम का उपयोग करें जिसमें रेटिनॉल हो क्योंकि यही एक ऐसी चीज़ है जो आपको ऐजिंग से बचा सकती है।

Related Posts