नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार के मुख्यमंत्री का चेहरा भले ही अभी तय न हुआ हो, लेकिन इसी बीच सूबे में मंत्री बनने की दौड़ भी शुरू हो गई है। पार्टी की पश्चिम से लेकर पूर्वांचल तक प्रचंड जीत हासिल की है। चौतरफा मिले जनादेश के चलते बीजेपी क्षेत्रीय, जातीय और वर्गीय संतुलन ..." />
Breaking News

क्क में इनका मंत्री बनना तय, जानें क्या है पीएम मोदी-अमित शाह का एक्शन प्लान

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में बीजेपी सरकार के मुख्यमंत्री का चेहरा भले ही अभी तय न हुआ हो, लेकिन इसी बीच सूबे में मंत्री बनने की दौड़ भी शुरू हो गई है। पार्टी की पश्चिम से लेकर पूर्वांचल तक प्रचंड जीत हासिल की है। चौतरफा मिले जनादेश के चलते बीजेपी क्षेत्रीय, जातीय और वर्गीय संतुलन के साथ ही आधी आबादी को भी मंत्रिमंडल में तरजीह देना चाहती है। इसके लिए उच्च स्तर पर होमवर्क शुरू हो गया है।जानकारों के मुताबिक बीजेपी के वरिष्ठ में सुरेश खन्ना, राधा मोहन दास अग्रवाल, हृदय नारायण दीक्षित, सतीश महाना, जयप्रताप सिंह, पंकज सिंह, सिद्धार्थनाथ सिंह, सूर्य प्रताप शाही, जगन प्रसाद गर्ग, धर्मपाल सिंह, राजेन्द्र सिंह उर्फ मोती सिंह, उपेन्द्र तिवारी, दल बहादुर, सत्यप्रकाश अग्रवाल, कृष्णा पासवान, राजेश अग्रवाल, श्रीराम सोनकर, वीरेन्द्र सिंह सिरोही, रमापति शास्त्री, अक्षयवर लाल जैसे कई लोगों को अलग-अलग समीकरण की वजह से लालबत्ती का तोहफा मिल सकता है।

Related Posts

error: Content is protected !!