नई दिल्ली। पोर्टलैंड स्टेट यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष विम विवेल पिछले हफ्ते हैदराबाद में 10 छात्रों से मिले। लेकिन काउंसिलिंग सेशन में छात्रों ने पढ़ाई के लिए अमेरिका जाने में डर जताया। एक मुस्लिम छात्र ने बताया कि उसके पिता अमेरिका के मुस्लिम विरोधी रवैये की वजह से उसे वहां भेजने से डर रहे हैं। जबकि ..." />
Breaking News

ट्रंप के आने के बाद स् यूनिवर्सिटी में विदेशी छात्रों की संख्या घटी

नई दिल्ली। पोर्टलैंड स्टेट यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष विम विवेल पिछले हफ्ते हैदराबाद में 10 छात्रों से मिले। लेकिन काउंसिलिंग सेशन में छात्रों ने पढ़ाई के लिए अमेरिका जाने में डर जताया। एक मुस्लिम छात्र ने बताया कि उसके पिता अमेरिका के मुस्लिम विरोधी रवैये की वजह से उसे वहां भेजने से डर रहे हैं। जबकि दूसरे छात्रों का कहना था कि वो ट्रंप इफेक्ट की वजह से चिंता में हैं। विवेल ने बताया कि अमेरिका की कार्यकारी नीतियों की वजह से छात्रों में डर बैठ गया है। इस साल अमेरिका में पढ़ाई के लिए विदेशी आवेदकों की संख्या में भारी कमी आई है। अमेरिकन एसोसिएशन ऑफ कॉलेजियट रजिस्ट्रार के सर्वे के अनुसार अमेरिका के अलग-अलग कॉलेजों में आवेदन करने वाले छात्रों की संख्या में करीब 40 प्रतिशत की गिरावट देखी गई है। सबसे कम आवेदन इस बार पश्चिम एशिया के छात्रों ने किया है। कई अधिकारियों ने बताया कि ट्रंप की अप्रवास नीतियों की वजह से इस स्थिति का सामना करना पड़ रहा है। आपको बता दें विदेशी छात्र अमेरिकी अर्थव्यवस्था को हर साल करीब 32 अरब डॉलर का योगदान देते हैं। पिछले 10 सालों से अमेरिका में विदेशी छात्रों की संख्या बढ़ी थी। पिछले साल 10 लाख छात्र अमेरिका में पढ़ाई के लिए पहुंचे थे।

Related Posts

error: Content is protected !!