– तीन की जली चिताएं, एक को दी मिट्टी – शोक स्वरूप दोपहर तक बंद रहे बाजार घड़साना। भीषण सड़क हादसे में मारे गये चारों दोस्तों का एक साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया। तीन दोस्तों की शमशान घाट में एक साथ चिताएं जली, जबकि एक युवक को बिश्रोई समुदाय से होने पर मिट्टी दी ..." />

चारों दोस्तों का एक साथ अंतिम संस्कार

– तीन की जली चिताएं, एक को दी मिट्टी
– शोक स्वरूप दोपहर तक बंद रहे बाजार
घड़साना। भीषण सड़क हादसे में मारे गये चारों दोस्तों का एक साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया। तीन दोस्तों की शमशान घाट में एक साथ चिताएं जली, जबकि एक युवक को बिश्रोई समुदाय से होने पर मिट्टी दी गई। इस हादसे से शोक स्वरूप घड़साना का पूरा बाजार दोपहर एक बजे तक बंद रहा। रविवार को रावला से घड़साना लौटते वक्त चारों दोस्त की कार दुर्घटना में दर्दनाक मौत हो गई थी। जानकारी के अनुसार घड़साना के युवा व्यापारी अमित चलाना पुत्र अशोक चलाना, बंटी उर्फ अमन मिगलानी पुत्र जगदीश, अंकुर छाबड़ा पुत्र रमेश छाबड़ा व गर्वित बिश्रोई रविवार को हुंडई कार में पार्टी करने गये थे।
वह पहले 281 हैड पर बने होटल में गये। यहां खाना-पीना करने के बाद रावला के पारस होटल में पहुंचे। यहां भी पार्टी की और फिर खाजूवाला मार्ग बने होटल नागौरी में आ गये। यहां पार्टी करने के बाद चारों दोस्त घड़साना के लिए रवाना हो गये। रावला से करीब एक किलोमीटर दूर तेज रफ्तार कार अनियन्त्रित होकर सड़क किनारे पेड़ से जा टकराई।
टक्कर इतनी भीषण थी कि पेड़ टूट गया और कार बीच में से कागज की तरफ मुड़ गई। रावला पुलिस ने कल रविवार को ही पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों के हवाले कर दिए थे। यह युवक पेस्टीसाइड, कपड़े की दुकान, सर्विस स्टेशन चलाते थे। गर्वित बिश्रोई स्टूडेंट था। एक साथ चार युवा व्यापारियों की मौत होने पर सुबह ही मंडी के बाजार नहीं खुले। दोपहर एक बजे कल्याण भूमि में अमित चलाना, बंटी उर्फ अमन, अंकुर छाबड़ा का अंतिम संस्कार करने के बाद बाजार खुले। गर्वित बिश्रोई को मिट्टी में दफनाया गया।

Related Posts