GST से महंगी होंगी छोटी कारें, स्ङ्क खरीदना पहले से सस्ता

नई दिल्ली। यदि आप छोटी कार खरीदने की योजना बना रहे हैं तो इस डील को जीएसटी लागू होने से पहले ही पूरी कर लें। जीएसटी लागू होने के बाद आपको इस पर कुछ अधिक राशि चुकानी पड़ सकती है। नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था में छोटी कारों पर अतिरिक्त सेस लगेगा। हालांकि बड़ी सिडान, स्पोट्र्स यूटिलिटी वीकल्स और लग्जरी कार खरीदने वाले लोगों को राहत मिल सकती है। इसकी वजह यह है कि जीएसटी काउंसिल ने इन पर 15 पर्सेंट सेस लगाने का फैसला लिया है, लेकिन इन पर कुल टैक्स पहले की तुलना में कम हो जाएगा। फिलहाल इन कारों पर तमाम तरह के अलग-अलग टैक्स लगते थे, लेकिन अब इन पर 28 पर्सेंट का एकमुश्त टैक्स लगेगा। इसके अलावा छोटी पेट्रोल गाडिय़ों पर 1 पर्सेंट और डीजल कारों पर तीन पर्सेंट का सेस लगेगा। वहीं, बड़ी और लग्जरी कारों पर 28 पर्सेंट टैक्स के अलावा 15 पर्सेंट सेस भी चार्ज किया जा सकता है। ऑटो इंडस्ट्री के जानकारों का कहना है कि एंट्री सेगमेंट में सेस लगाने से देश को छोटी कारों के मैन्युफैक्चरिंग बेस के तौर पर विकसित करने की संभावनाओं पर विपरीत असर होगा।